May 11, 2021

Aone Punjabi

Nidar, Nipakh, Nawi Soch

प्रदेश में शराब की सख्ती और 123 लोगो की हुई मौत…

1 min read

प्रदेश में शराब की सख्ती और 123 लोगो की मौत के बाद अब सियासी तलवारे भी खींच गयी है जिस के चलते कांग्रेस के भीतर हाई लेवल पर जाहा प्रताप बाजवा और शमशेर सिंह दूलो का ग्रुप मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और पंजाब प्रधान सुनील जाखड़  को टक्कर दे रहा तो निचले स्तर पर भी यह काम शुरू।हो गया है 

जिला कपूरथला के हल्का भुल्थ से 2017 का कांग्रेस पार्टी की और से चुनाव लड़ चुके कांग्रेसी नेता राणा रणजीत  सिंह ने पंजाब के चीफ सेक्टरी और मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखा है जिस में रणजीत राणा ने पूर्व मंत्री और कपूरथला के विधायक राणा गुरजीत सिंह पर निशाना साधते हुए उनको के खिलाफ शराब तस्करी और माफिया नेटवर्क जैसे संगीन आरोप लगाए है और कहा है की तरनतारन की तर्ज पर ही भुल्थ में भी शराब का अवैध कारोबार जारी है

जिस के चलते अब तक भुल्थ के जैसे हल्के के शराब के ठेके अभी भी नीलामी का इनतजार कर रहे है और याहा पर भी तरनतारन की तरह एक निजी डिस्टलरी की शराब थैलियों में भर कर बेची जा रही है उनका मानना है की तरनतारन शराब कांड के तार भुल्थ से भी जुड़े हो सकते है और इस के साथ ही कांग्रेसी पूर्व मंत्री के  भुल्थ ,टांडा उड़मुड़ और सुल्तानपुर लोधी में अकालियों से सांठ गांठ कर कांग्रेस पार्टी के नुकसान का भी जिक्र किया है ! राणा ने गुरजीत राणा पर मनमर्जियां शराब और रेत के धंदे में नजायज ढंग से कारोबार की बात की है राणा ने इस में बीबी जागीर कौर से उनकी मित्रता और अपनी शराब फेक्ट्री के लिये अकाली भाजपा सरकार में फायदे का उल्लेख भी है भुल्थ के इस कांग्रेसी नेता ने प्रताप बाजवा की तरह कांग्रेस पार्टी के बचाव के लिये राणा गुरजीत के खिलाफ जांच और कारवाई की मांग की है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *