May 8, 2021

Aone Punjabi

Nidar, Nipakh, Nawi Soch

फौज की भर्ती के नाम से नोजवानो के साथ हुई ‘करोड़ो की ठगी’ के मामले में भड़के बैंस..

1 min read

लोक इंसाफ पार्टी के प्रमुख सिमरजीत सिंह बैंस ने पंजाब में सेना भर्ती को लेकर एक बड़ा खुलासा करते हुए युवाओं के साथ करोड़ों रुपए की ठगी होने का आरोप लगाया है। जिन्होंने इस सम्बंध में पीड़ित युवकों के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की। प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए बैंस ने कहा कि पंजाब के अलग-अलग हिस्सों से संबंधित युवाओं को सेना में भर्ती करवाने के लिए झांसा देकर प्रति युवक करीब 3 से 4 लाख रुपये वसूले गए और उन्हें भर्ती से जुड़े जाली दस्तावेज तक मुहैया करवा दिए गए। उन्होंने हैरानी प्रकट की कि पुलिस और सरकार अभी तक आरोपियों तक पहुंचने में नाकामयाब रही है। बैंस ने कहा कि इन युवकों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया गया है जिन्होंने उधारी लेकर या फिर अपने गहने या संपत्ति बेचकर पैसे आरोपियों को दिए। इस दौरान उन्होंने युवकों को जारी किए गए फर्जी दस्तावेज भी मीडिया के सामने पेश किए। इस दौरान सांसद रवनीत सिंह बिट्टू की ओर से श्री अकाल तखत साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह पर बयानबाजी करने पर टिप्पणी करते हुए बैंस ने बिट्टू को सलाह दी कि वह बतौर सांसद लोकसभा क्षेत्र के लोगों के हितों की बात करें जिन्होंने उन्हें चुना है। एसजीपीसी द्वारा दूध और घी की सप्लाई का ठेका महाराष्ट्र के एक निजी कंपनी को देने की भी बैठने निंदा की और इसे पंजाब के किसानों के हितों के खिलाफ बताया। वहीं पर रेफरेंडम 2020 को उन्होंने कहा कि इस संबंध में उनके पुराने बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया था। जबकि उन्होंने इन लोगों के साथ कश्मीर के अलगाववादियों की तर्ज पर बैठकर बात करने को समस्या को सुलझाने की सलाह दी थी। दूसरी ओर, पीड़ित युवकों ने बताया कि आरोपियों ने उनसे 3 से 4 लाख वसूलने के अलावा, उन्हें फर्जी भर्ती संबंधी दस्तावेज मुहैया करवाए। मामले का खुलासा तब हुआ जब उनकी सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ इस बारे बात हुई और दस्तावेजों की सच्चाई सामने आई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *