August 1, 2021

Aone Punjabi

Nidar, Nipakh, Nawi Soch

25000 की रिश्वत लेने के जुर्म में रंगे हाथों पकड़ा गया

1 min read
गांव छाजला के पूर्व सरपंच से पुराने केस को खत्म करने के लिए ₹25000 की रिश्वत लेने के मामले में रंगे हाथों पकड़ा पटवारी डीडीपीओ भी केस में नामजद कर विजिलेंस विभाग जांच में लगा है ।एक रिपोर्ट

मामला गांव गोविंदगढ़ जेजियाँ के छप्पर की बोली को लेकर था जिस के मामले में पहले f.i.r.. हुई थी और फिर लिखत राजीनामा होने के चलते मामला खत्म हो गया था लेकिन डीडीपीओ ने केस खारिज नहीं किया था पूर्व सरपंच जगसीर सिंह ने बताया कि जब इस मामले में उन्होंने डीडीपीओ से बात की तो उन्होंने केस खत्म करने के लिए पटवारी से बात करने को कहा  तो पटवारी जगसीर सिंह ने उससे ₹25000 की रिश्वत मांगी जिसके चलते विजिलेंस टीम द्वारा ट्रैप लगाकर ₹25000 की रिश्वत लेते पटवारी

, इसी मामले में जब विजिलेंस इंस्पेक्टर सुदर्शन सिंह से बात की तो उन्होंने बताया की गोविंदगढ़ जेजियाँ के छप्पर का पुराना मामला था जिसको निपटाने के लिए पटवारी जगसीर सिंह ने डीडीपीओ परमजीत सिंह से मिलकर उनसे पैसे मांगे और उन्होंने यह भी बताया कि पटवारी जगसीर सिंह ने फोन पर भी डीडीपीओ से बात की थी कि मैंने पैसे ले लिए हैं आपको कहां पकड़ा दूँ इस पर उन्होंने कहा कि दोषी पटवारी जगसीर सिंह पर पी ,सी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है और डीडीपीओ परमजीत सिंह की भी जांच चल रही है 



, जब पटवारी जगसीर  सिंह से बात की तो वह डीडीपीओ पर इल्जाम लगाते नजर आए कि उसको इस केस को खत्म करने के लिए फोर्स किया जा रहा था उसने कहा कि उसको इस मामले में पैसे लेने के लिए डीडीपीओ ने ही कहा था और उन्होंने ही उसे जगजीर सिंह से बात करने के लिए कहा
जगसीर सिंह पटवारीमामले में पुलिस ,शिकायत कर्ता और कथित आरोपी के बयानों में 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may have missed